संक्रमण से ठीक होने के मामले तेजी से सक्रिय मामलों से आगे निकल रहे हैं:स्वास्थ्य मंत्रालय


कोविड-19 पर अपडेट
ठीक होने और सक्रिय मामलों के बीच अंतर 1 लाख से अधिक

ठीक होने की दर बढ़कर 58.56% हो गई

प्रति दिन 2.3 लाख से अधिक नमूनों के परीक्षण



 Delhi

भारत सरकार द्वारा कोविड-19 की रोकथाम,नियंत्रण और प्रबंधन के लिए राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों के साथ मिलकर उठाए गए क्रमबद्ध और सक्रिय कदमों से उत्साहजनक मिल रहे हैं।


कोरोना वायरस के संक्रमण से रोगियों के ठीक होने और इसके सक्रिय मामलों के बीच अंतर 1,00,000 से अधिक हो गया है। आज की तारीख में इस संक्रमण से ठीक होने वाले रोगियों की संख्या इसके सक्रिय मामलों की संख्या से 106,661 अधिक है। इस प्रकार, अब तक कोविड -19 बीमारी से कुल 3,09,712 मरीज ठीक हो चुके हैं। कोविड-19 के रोगियों के ठीक होने की दर बढ़कर 58.56% हो गई है। पिछले 24 घंटों के दौरानकोविड-19 के कुल 13,832रोगियों को स्वस्थ किया गया है।


अभी कोविड-19 के 2,03,051 सक्रिय मामले हैं और सभी का अस्पचाल में सक्रिय चिकित्सा देखरेख में इलाज चल रहा है।


भारत में अब कोविड-19 को समर्पित 1036 नैदानिक ​​प्रयोगशालाएँ हैं। इसमें 749 सरकारी और 287 निजी प्रयोगशालाएं हैं।


वास्तविक समय आरटी पीसीआर आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं: 567 (सरकारी: 362 + निजी: 205)


ट्रूनैट आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं: 382 (सरकारी: 355 + निजी: 27)


सीबीएनएएटी आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं: 87 (सरकारी: 32 + निजी: 55)


हर रोज 2,00,000 से अधिक नमूनों का परीक्षण किया जा रहा है। पिछले 24 घंटों में परीक्षण किए गए नमूनों की संख्या बढ़कर 2,31,095हो गई है। आज की तारीख तक कुल 82,27,802 नमूनों का परीक्षण किया जा चुका है।


आज 28 जून,2020 तक, कोविड से संबंधित स्वास्थ्य की बुनियादी सुविधाओं को 1,77,529 आइसोलेशन बेड, 23,168 आईसीयू बेड और 78,060 ऑक्सीजन सुविधा युक्त बेड के साथ 1055कोविड समर्पित अस्पतालों की उपलब्धता के साथ मजबूत किया गया है। इसके अलावा 1,40,099आइसोलेशन बेड, 11,508 आईसीयू बेड और 51,371 ऑक्सीजन सुविधा युक्त बेड के साथ 2,400 कोविड समर्पित स्वास्थ्य केंद्र भी चलाए जा रहे हैं।


इसके अलावा,  कोविड-19 से निपटने के लिए देश में अभी 8,34,128 बेड वाले 9,519 कोविड देखभाल केंद्र उपलब्ध हैं। केंद्र सरकारल ने राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों / केंद्रीय संस्थानों को 187.43 लाख एन95 मास्क और 116.99 लाख व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) भी प्रदान किए हैं।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हुआ " श्रीमती माधुरी सक्सेना कंप्यूटर शिक्षण केंद्र" का उद्घाटन