पेट्रोल-डीजल की महंगाई के विरोध में सपा का प्रदर्शन

राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपा

 

नोएडा। समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पेट्रोल-डीजल के दाम में बेतहाशा इजाफा, स्कूल फीस, बिजली बिल, महिला सुरक्षा और कानून व्यवस्था के मुद्दे को लेकर सोमवार को जोरदार प्रदर्शन किया। बाद में राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपा। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने पीएम मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। 

 

समाजवादी पार्टी के नोएडा विधानसभा अध्यक्ष देवेंद्र गुर्जर के नेतृत्व में बैलगाड़ी पर सवार होकर बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं सेक्टर-19 स्थित सिटी मजिस्ट्रेट कार्यालय पहुंचे। कार्यकर्ताओं ने वहां जमकर प्रदर्शन किया। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने पीएम और सीएम के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। राज्यपाल को प्रषित ज्ञापन में कहा गया है कि कोरोना संकट के बीच पेट्रोल-डीजल के दाम आसमान छू रहे हैं। स्कूलों की मनमानी फीस और बिजली के दाम ने लोगों का दम निकाल रखा है। पेट्रोल-डीजल के बढ़े दामों की वजह से किसानों की मुसीबतें बढ़ गई हैं। आम आदमी त्रस्त है। ज्ञापन में पेट्रोल-डीजल के दाम कम करने, स्कूलों की मनमानी फीस वसूली पर रोक लगाने और बिजली बिलों में जनता को राहत देने की मांग की गई है। 

 

नोएडा विधानसभा अध्यक्ष देवेंद्र गुर्जर ने कहा कि लॉकडाउन के कारण ज्यादातर लोगों को अपने रोजगार से हाथ धोना पड़ा है। संकटकाल में बिजली का बिल जमा करने में असमर्थ जनपद के 50 हजार से अधिक  उपभोक्ताओं को कनेक्शन काटने की चेतावनी दी गई है। यह जनता के साथ धोखा है। उन्होंने इस पर तत्काल रोक लगाने की मांग की है। 

 

प्रदर्शनकारियों में सुनील चौधरी, दीपक बिग, श्रवण त्यागी, रेशपाल अवाना, सुभाष भाटी, विजेंद्र त्यागी, राजेंद्र अवाना, शांतनु मित्तल, वीरपाल अवाना, शकील सैफी, मोहम्मद तसलीम, नौशाद अल्वी, सत्य प्रधान, जयवीर सिंह, निजाम अंसारी, अरविंद चौहान, विनय सिंह, सिराजुद्दीन मलिक, रोहित यादव, मुफ्ती मुबारक, साहिल खान, कालू यादव, शालिनी खारी, मुन्ना आलम, सुमित अंबावता, बब्बू यादव, राहुल त्यागी, चिंटू त्यागी, राहुल यादव सिकंदर, अमित बसोया, पप्पी, रवि यादव, मुमताज आलम और शमशाद सैफी आदि शामिल थे। 

 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हुआ " श्रीमती माधुरी सक्सेना कंप्यूटर शिक्षण केंद्र" का उद्घाटन