जिले में कोरोना वायरस का संक्रमण रुकने का नाम नहीं ले रहा,रविवार को भी 41 नए मरीज

 गौतमबुद्ध नगर में 41 नए संक्रमितों के मिलने से हड़कंप, 31 ने कोरोना को हराया 


जिले में अब तक 632 लोग संक्रमित, 413 डिस्चार्ज, 08 की मौत, 211 का इलाज जारी


नोएडा। गौतमबुद्ध नगर जिले में कोरोना वायरस का संक्रमण रुकने का नाम नहीं ले रहा है। रविवार को भी 41 नए मरीजों के मिलने से प्रशासन में हड़कंप मच गया है। इसके साथ ही जिले में कुल संक्रमित लोगों की संख्या 632 पहुंच गई है। जबकि 31 लोगों को स्वस्थ होने के बाद हॉस्पिटल से डिस्चार्ज कर दिया गया। जिले में स्वस्थ होने वाले मरीजों का आंकड़ा 413 हो गया है। संक्रमण से जिले में अब तक 08 लोगों की मौत हो चुकी है। फिलहाल, 211 लोगों का इलाज जिले के विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है। 


जिला निगरानी अधिकारी डॉ. सुनील दोहरे ने बताया कि शनिवार को मिली रिपोर्ट में कुल 41 लोग संक्रमित पाए गए हैं। जिन लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है, उनमें नोएडा के सेक्टर-62 निवासी 54 वर्षीय महिला, सेक्टर-31 निवासी 67 साल के व्यक्ति, सेक्टर-73 निवासी 38 साल का पुरुष, चेरी काउंटी निवासी 51 साल की महिला, नोएडा के सेक्टर-12 निवासी 53 वर्षीय व्यक्ति, सेक्टर-22 निवासी 31 साल का युवक, सेक्टर-74 निवासी 56 साल की महिला, सेक्टर-22 निवासी 71 साल की महिला, सेक्टर-11 निवासी 49 साल की महिला, सेक्टर-62 निवासी 58 साल का व्यक्ति, सेक्टर-44 निवासी 32 का युवक, सेक्टर-21 निवासी 72 वर्षीय व्यक्ति, सेक्टर-21 निवासी 68 साल की महिला, नोएडा के ममूरा गांव निवासी 55 साल के व्यक्ति, ग्रेटर नोएडा के सेक्टर बीटा-1 के 34 वर्षीय युवक, नोएडा के सेक्टर-27 निवासी 37 साल की महिला, सेक्टर-47 निवासी 57 वर्षीय व्यक्ति, सेक्टर-110 निवासी 48 साल का पुरुष, सेक्टर-40 निवासी 20, 22 साल की युवतियां, 12 साल की बच्ची, 14 साल का किशोर, 45 साल का व्यक्ति और सेक्टर-49 निवासी 14 साल का किशोर और 49 साल की महिला शामिल है। 


इसके ग्रेटर नोएडा के गामा सेक्टर निवासी 42 वर्षीय व्यक्ति, ग्रेटर नोएडा के लखनावली गांव निवासी 40 साल का पुरुष, नोएडा के सेक्टर-26 निवासी 54 साल का पुरुष और 48 साल की महिला, ग्रेटर नोएडा के पंचशील ग्रीन सोसायटी निवासी 29 साल का युवक, घोड़ी बछेड़ा गांव निवासी 45 वर्षीय पुरुष, नोएडा के सेक्टर-22 निवासी 46 साल की महिला, सेक्टर-82 निवासी 22 साल का युवक, सेक्टर-63 निवासी 47 वर्षीय महिला, सेक्टर-63 निवासी 51 साल के व्यक्ति, सेक्टर-21 निवासी 28 साल का युवक, सेक्टर-137 निवासी 48 वर्षीय पुरुष, नोएडा के सेक्टर-5 हरौला निवासी 20 साल का युवक, ग्रेटर नोएडा के सेक्टर-डेल्टा निवासी 26 वर्षीय युवक, नोएडा के सेक्टर-39 निवासी 47 साल का व्यक्ति और ग्रेटर नोएडा के सूरजपुर निवासी 28 वर्षीय महिला भी कारोना वायरस से संक्रमित पाई गई है।


डिस्ट्रिक्ट सर्विलांस ऑफिसर डॉ. सुनील दोहरे ने बताया कि रविवार को कोरोना को परास्त करने वाले 31 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है। उनमें 10 का इलाज ग्रेटर नोएडा के शारदा हॉस्पिटल, 05 का कैलाश हॉस्पिटल और 16 संक्रमितों का इलाज गवर्नमेंट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (जिम्स) में हो रहा था। इसके साथ जिले में स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या 413 हो गई है। उन्होंने बताया कि गौतमबुद्ध नगर में अब तक कुल 680 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। उनमें 48 क्रॉस नोटिफाइड हैं। इस तरह गौतमबुद्ध नगर के कुल 632 लोग संक्रमित हैं। जिले में अब तक 413 लोगों को स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। जिले में कोरोना संक्रमण से अब तक मरने वालों की संख्या 08 है। फिलहाल 211 पॉजिटिव मरीजों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज किया जा रहा है। 


डॉ. सुनील दोहरे ने बताया कि जिले में 48 मरीज क्रॉस नोटिफाइड हैं। वे दिल्ली, गाजियाबाद, आंध्र प्रदेश, वेस्ट बंगाल, आगरा, हापुड़ और बुलंदशहर और हरियाणा के हैं। 06 मरीजों की एंट्री दो बार हुई है। इनमें 07 मरीजों की एंट्री पहले ही हो चुकी है। डॉ. सुनील दोहरे ने बताया कि गौतमबुद्ध नगर जिले में कुल 12 संवेदनशील स्थान हैं, जहां कैंप लगाकर जांच की जा रही है। उनमें ममूरा, निठारी, सर्फाबाद, हरौला, सेक्टर-8, 9, 10 शामिल हैं। उन्होंने बताया कि इन स्थानों पर कुल 425 लोगों की स्क्रीनिंग की गई। उनमें 07 लोगों को बुखार की शिकायत के बाद जिला अस्पताल भेजा गया। उन्होंने बताया कि पांच जून को सेक्टर-44 निवासी 12 लोगों के सैंपल लिए गए थे। एक निजी लैब की जांच में वे सभी पॉजिटिव पाए गए हैं। उन्हें इलाज के लिए आइसोलेशन वार्ड में दाखिल करा दिया गया है। इसके अलावा गाजियाबा के रहने वाले एक मरीज को यहां जिला अस्पताल में लाया गया था। डॉक्टरों के मुताबिक अस्पताल लाने से पहले ही उसकी मौत हो चुकी थी। इस बाबत गाजियाबाद के डीएसओ को जानकारी दे दी गई है।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हुआ " श्रीमती माधुरी सक्सेना कंप्यूटर शिक्षण केंद्र" का उद्घाटन