सेल ने पूर्वोदय में अपनी भागीदारी की शुरुआत की
नई दिल्ली / कोलकाता : स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (सेल) ने एक विशेष प्रोत्साहन योजना के जरिये देश भर में स्थित अपने संयत्रों  के आसपास औद्योगिक ढांचे को बढ़ावा देने और समग्र सामाजिक-आर्थिक विकास हासिल करने के लिए पूर्वोदय में अपनी भागीदारी की शुरुआत की है| "इस्पाती इलाकों का विकास: सेल के साथ"  नाम की इस योजना का उद्देश्य विशेष मूल्य निर्धारण, विशेष वाणिज्यिक शर्तों, इनपुट की उपलब्धता, आसान वित्तपोषण सहायता और स्थानीय एमएसएमई को तकनीकी जानकारी प्रदान करके इस्पात आधारित समूहों को प्रोत्साहित करना है। पूर्वोदय की प्रत्येक राज्य में उपस्थिति के साथ ही, यह योजना एमएसएमई के लिए उन क्षेत्रों में उपलब्ध होगी, जहां सेल के भिलाई, राउरकेला, बोकारो, दुर्गापुर और बर्नपुर इस्पात संयंत्र स्थित हैं ।



 इस्पात मंत्री  धर्मेन्द्र प्रधान ने 11 जनवरी, 2020 को कोलकाता में सीआईआई द्वारा आयोजित "पूर्वोदय सम्मेलन" के दौरान योजना का शुभारंभ करते हुए कहा, “ये योजनाएँ पूर्वांचल के राज्यों में आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देने की आगे की राह तय करेंगी तथा प्राकृतिक संसाधनों के धनी को इन राज्यों में सामाजिक और आर्थिक विकास को हासिल करने की आदर्श स्थिति का निर्माण करेंगी।” इस अवसर पर बोलते हुए, सेल अध्यक्ष श्री अनिल कुमार चौधरी ने कहा,“ इस पहल के साथ सेल राष्ट्र निर्माण की अपनी इस विरासत को आगे भी जारी रखेगी।" ”उन्होंने उद्यमियों को इस पहल में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया और इस्पात क्षेत्रों के पास सर्वांगीण विकास के लिए इस्पाती इरादे के साथ सेल की मदद के लिए आगे आने को कहा.