सरकार की गलत नीतियों के कारण भयंकर बेरोजगारी, बेहाल अर्थव्यवस्था व कृषि संकट के खिलाफ धरना

 


कांग्रेस सरकार आने पर दिल्ली के हर घर को 600 यूनिटफ्री बिजली देंगे


बादली के विधायक पांच साल तक रहे गुम:यादव


बादली। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सुभाष चौपडा ने कहा है कि  देश और शहर भारी दुर्दशा के दौर से गुजर रहा है। नेटबन्दी से माता-बहनों की अल्पबचत तक को छीन लिया। केजरीवाल ने न सिर्फ जनता बल्कि अपने ही विश्वसनीय दोस्तों तक को धोखा दिया। 5 साल में केजरीवाल ने दिल्ली को सिर्फ धोखा दिया।


बादली विधानसभा क्षेत्र के जहांगीरपुरी पार्क में धरना एवं विशाल प्रदर्शन को सम्बोधित करते हुए कहा कि अर्थव्यवस्था की कमजोर स्थिति के लिए केंद्र की मोदी सरकार जिम्मेदार है। सरकार की गलत नीतियोंनोटबंदी और जीएसटी के कारण देश मंदी और बेरोजग़ारी की मार झेल रहा है। मोदी सरकार की आर्थिक नीतियां देश के लिए "घातक" बनती जा रही है। सरकारी कंपनियों को बेचा जा रहा हैनिजीकरण लागू करके आरक्षण को खत्म किया जा रहा है और न्यायपालिका में दलितों-पिछड़ों को पहुंचने से रोका जा रहा हैइसलिए जरूरी है कि सब लोग एकजुट हों और मोदी सरकार की मनमानी नीतियों के खिलाफ आवाज उठाएं।


कांग्रेस जब सत्ता में थी तो बिजली और जल की आपूर्ति को नियमित किया। दिल्ली को मेट्रोस्कूल-कॉलेजफ्लाई ओवर कांग्रेस ने दिये। शीला दीक्षित ने दिल्ली को दुनिया की बेहतरीन राजधानी बनाया। केजरीवाल ने बच्चों की शिक्षा भी छीन ली। न वायु स्वच्छ है और न पानी। रोज 58 आदमी सांस की बीमारी से मरते हैं। इसकी जिम्मेदार सिर्फ केजरीवाल सरकार है। प्याज के दाम कांग्रेस के समय भी बढ़े थे पर शीला दीक्षित ने जमाखोरों पर छापे डलवाकर कार्यवाही की। आज केंद्र और दिल्ली सरकार चुप है। झुग्गी बस्ती की जगह फ्लैट्स बनाएंगे। दिल्ली में 600 यूनिट फ्री बिजली देंगे। बिजली में कांग्रेस ने पहले भी सब्सिडी दी। उसी तरह फिर सब्सिडी देकर फ्री बिजली देंगे। योजना बनाने का कार्य आरम्भ कर दिया है। कांग्रेस सरकार में आने पर पेंशन में बढ़ोतरी की जाएगी। हमारे पास काम करने का अनुभवक्षमता और विजन है जिसके बल पर दिल्ली विकास करेगी।


भाजपा सरकार की गलत नीतियों के कारण भयंकर बेरोजगारी, बेहाल अर्थव्यवस्था व कृषि संकट के खिलाफ आयोजित धरना एवं विशाल प्रदर्शन को सम्बोधित करते हुए पूर्व विधायक और दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष देवेन्द्र यादव ने कहा कि कांग्रेस को दिल्ली में फिर स्थापित करने का संकल्प हम सबने लिया है। सब मिलकर इस संकल्प को पूरा करेंगे। जो सिर्फ बात करते थेउनका जाने का समय आ गया है। मोदीजी और केजरीवाल ने सत्ता में आने से पहले बड़ी-बड़ी बात की थीं। दोनों सरकार हर वादे पर विफल रही है। न महंगाई घटी और न ही रोजगार मिले। केजरीवाल बिना जमीन के यूनिवर्सिटी खोलने की बात करते हैं। इन हवा में बातें करने वाले लोगों को फिर जमीन पर लाने की जरूरत है। पिछले कार्यकाल में कांग्रेस ने काफी काम किया पर प्रचार नहीं किया। एक तरफ देश के युवा बेरोजगारी से परेशान हैं तो दूसरी तरफ रही सही नौकरियों को भी खत्म करने की तमाम कोशिशें की जा रही हैं। असंगठित क्षेत्र हो या संगठित क्षेत्रसब जगह लाखों की संख्या में लोग नौकरियों से निकाले जा रहे हैं। वित्तीय असुरक्षा का आलम ये है कि बीएसएनएलएमटीएनएल जैसी सरकारी कंपनियों में काम करने वाले कर्मचारी भी अपनी सैलरी पाने के लिए जूझ रहे हैं। भले ही वित्त मंत्री यह कहकर टाल रही हों कि देश की अर्थव्यवस्था में सब कुछ अच्छा है लेकिन वास्तविकता छिपाए नहीं छिप रही है।


यादव ने कहा कि उन्होंने बादली में 27000 पेन्शन बनवाई। पिछले 5 साल में कोई नई पेंशन नहीं बनीबल्कि जिनकी बनीउनकी भी बन्द हो गई। विधायक चुनाव के बाद से गायब हो गये। हम 5 साल लगातार सक्रिय रहे। आपके प्यार और सम्मान से ताकत मिलती है। राजस्थान और हरियाणा में इसी ताकत ने ऊर्जा दी। पिछली लाइन में लगे लोगों को हम आगे लाये।


यादव ने कहा कि क्षेत्र में कोई स्कूलमोहल्ला क्लिनिक या कोई भी नया निर्माण कार्य नहीं हुआ। जनता लगातार परेशान होती रही। कांग्रेस का हाथ सदैव अपने भाइयों के साथ है। कांग्रेस तरक्की और विकास के लिए हमेशा संकल्पबद्ध रही है। आर्थिक मंदी विश्व में होने का बहाना बनाने वाली सरकार को देश अब सहन नहीं करेगा। चंद अमीर लोगों के हाथ में देश की अर्थव्यवस्था सिमट कर रह गई है।


पूर्व सांसद कीर्ति आजाद ने कहा कि सुभाष चोपड़ा जी के नेतृत्व में कांग्रेस फिर सरकार बनाएगी। मोदी ने हर साल दो करोड़ नॉकरी का वादा कियापर पूरा नहीं किया। महंगाई इतनी बढ़ चुकी है कि आम आदमी का जीना मुहाल हो गया है। पेट्रोल-डीजल की कीमतों से देशवासी बेहाल हैं। इस चुनाव में मोदी और आप सरकार से महंगाई का जवाब मांगिये। दिल्ली सरकार में 40 हज़ार पद खाली पड़े हैं। 5 साल में केजरीवाल सरकार ने केवल 334 नॉकरी दी। आज पराली नहीं जल रही फिर भी वायु प्रदूषण है। दिल्ली का पानी जहरीला हो गया है। दिल्ली की बीमारियों के लिए दोनों सरकार बराबर जिम्मेदार हैं। यदि प्रदूषण और बीमारियों से मरना नहीं चाहते तो फिर कांग्रेस की सरकार दिल्ली में बनानी है। धरना प्रदर्शन को पूर्व विधायक जसवंत सिंह राणा, कर्ण सिंह कंडेला सहित अन्य अनेक नेताओं ने सम्बोधित किया