पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने नाव से बाढ़ग्रस्त इलाकों का दौरा किया

श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने जलमग्न फसलों का  जायजा लिया, प्रशासन को तुरंत राहत सामग्री उपलब्ध कराने का निर्देश दिया


मिर्जापुर


पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं अपना दल (एस) की राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने शुक्रवार को मिर्जापुर जनपद के बाढ़ग्रस्त इलाकों का दौरा कर बाढ़ पीड़ित किसानों का हाल जाना। इस दौरान उन्होंने प्रशासन से बाढ़ पीड़ितों को सभी आवश्यक बुनियादी सुविधाओं सहित राहत सामग्री उपलब्ध कराने का निर्देश दिया।


मिर्जापुर की सांसद अनुप्रिया पटेल ने शुक्रवार को नाव के जरिए जनपद के रैपुरिया, बघेड़ी, बघेड़ा, सहसपुरा, नियामतपुर, पचेवरा, जलालपुर माफी, बगही, बेला इत्यादि बाढ़ग्रस्त गांवों का दौरा किया और इन इलाकों में बाढ़ की वजह से किसानों की हजारों एकड़ बर्बाद हुई फसल का जायजा लिया।


बता दें कि इन इलाकों में किसानों और बटाईदार किसानों की हजारों एकड़ मूंगफली, मक्का, तिल्ली, बाजरा की फसल बाढ़ की वजह से जलम़ग्न हो गई है। बाढ़ ग्रस्त इलाकों का दौरा के दौरान पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीमती पटेल के साथ जनपद के एसडीएम आशुतोष दूबे  भी थें। श्रीमती पटेल ने एसडीएम आशुतोष दूबे को निर्देश दिया कि बाढ़ की वजह से बर्बाद हुई फसलों का जल्द से जल्द सर्वे कराकर किसानों को उचित मुआवजा दिया जाए। उन्होंने बटाई पर खेती करने वाले बटाईदार किसानों को भी बर्बाद फसल का मुआवजा देने का निर्देश दिया। श्रीमती पटेल ने प्रदेश के बटाईदार किसानों की बर्बाद फसल का उचित मुआवजा दिलाने के लिए माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ से बात करने का आश्वासन भी दिया।


लेखपाल के आने की बकायदा मुनादी कराई जाय:


श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने यह भी निर्देश दिया कि बाढ़ ग्रस्त इलाकों के लिए लेखपाल के आने से पहले ग्रामीणों को सूचना दी जाए। इस बाबत सरकार मुनादी कराए। अखबारों के जरिए भी समय पूर्व किसानों को सूचित किया जाए, ताकि पीड़ित किसान ठीक से जानकारी दे सकें।


श्रीमती अनुप्रिया पटेल के साथ पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता राजेश पटेल, युवा नेता उदय पटेल, डॉ अनिल पटेल, कमलेश सिंह, भगवान दास प्रजापति, कृष्ण मुरारी, धनंजय, इंजीनियर त्रिलोक सिंह, विरेंद्र सिंह, जंगाली सिंह सहित जनपद के कई वरिष्ठ नेताओं ने भी बाढ़ग्रस्त इलाकों का दौरा किया।


 


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

*सेक्टर १२२ में लेडीज़ क्लब ने धूमधाम से मनाई - डांडिया नाइट *

हल्के और मध्यम कोविड-19 संक्रमण के इलाज में कारगर है ‘आयुष-64’

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस: भारतीय विज्ञान की प्रगति का उत्सव