यूपी के स्वास्थ्य मंत्री ने जिला अस्पताल में किया डायलिसिस यूनिट का शुभारंभ

 


नोएडा। यूपी के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने बुधवार को सेक्टर-30 स्थित जिला अस्पताल के दूसरी मंजिल पर बने डायलिसिस यूनिट का शुभारंभ किया। मरीजों के लिए फिलहाल तीन मशीनें लगाई गई हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने सीएमएस रेनू अग्रवाल को कम से कम 08 मशीनें लगाने के निर्देश दिए हैं। इस दौरान उन्होंने कोविड के उपचार संबंधी जानकारी ली और मरीजों को उपलब्ध कराए जा रहे चिकित्सा सुविधाओं का जायजा लिया।


स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार का प्रयास है कि सभी लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध हो। इसके लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। गौतमबुद्ध नगर के जिला अस्पताल में डायलिसिस यूनिट शुरू होने से यहां के मरीजों को खासा लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि जल्द ही अस्पताल में चिकित्सा सुविधाएं और बेहतर बनाने के प्रयास किए जाएंगे। इस मौके पर सीएमओ डॉक्टर दीपक ओहरी, जिला अस्पताल की सीएमएस डॉ. रेनू अग्रवाल, ऑर्थो सर्जन डॉक्टर बृजेश कुमार, पैथोलॉजिस्ट डॉ. लवानिया आदि मौजूद थे। स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह के जिला अस्पताल आगमन को लेकर अस्पताल प्रशासन ने पहले ही सभी तैयारियां कर ली थीं। पिछले काफी समय से बदहाल चल रहे जिला अस्पताल में चिकित्सा सुविधाएं पटरी पर दिखाई दीं। प्रवेश द्वार से लेकर अस्पताल परिसर में पूरी तरह से साफ सफाई कराई गई थी। मरीजों के खड़े होने के लिए 2 फीट की दूरी पर गोले बनाए गए थे। अस्पताल के प्रवेश द्वार पर ही फीवर क्लीनिक बनाकर मरीजों की कोरोना की जांच की जा रही थी। कोरोना संक्रमण की जांच के लिए कई चिकित्सकों व नर्सिंग स्टाफ को फीवर क्लीनिक पर तैनात किया गया था। जिला अस्पताल में व्यवस्थाओं को देखकर वहां आने वाले मरीज खुश दिखाई दिए। मरीजों का कहना था कि काश इसी तरह की व्यवस्थाएं अस्पताल में रोजाना मिले तो मरीजों को परेशानियों का सामना न करना पड़े। अस्पताल में आने वाले मरीजों से कड़े तेवरों में बात करने वाले चिकित्सक और स्टाफ काफी नम्र दिखाई दिए। अस्पताल के मुख्य द्वार पर तैनात उद्घोषक मरीजों को कोविड-19 के नियमों का पालन करने तथा उपचार संबंधी जानकारी दे रहे थे।