बच्चों के स्कूल की फीस भरने के लिए अभिभावकों ने भीख मांगी

कोरोना काल में आर्थिक संकट से जूझ रहे अभिभावकों की सुनने को तैयार नहीं स्कूल प्रबंधन


नोएडा। ऑल नोएडा स्कूल पेरेंट्स एसोसिएशन के तत्वावधान में सभी स्कूली बच्चों के पेरेंट्स ने निजी स्कूलों की मनमानी के खिलाफ शुक्रवार को स्पाइस चौराहे पर भीख मांग कर विरोध जताया। अभिभावकों का कहना था कि निजी स्कूल उनकी परेशानी को नहीं समझ रहे हैं, जिससे स्कूलों की फीस भरने के लिए उनके सामने भीख मांगने के अलावा कोई और विकल्प नहीं बचा है।  


एसोसिएशन के अध्यक्ष यतेंद्र कसाना के नेतृत्व में सुबह संस्था के पदाधिकारी और अभिभावक नोएडा स्टेडियम के गेट नंबर-4 पर जमा हुए। वहां से सभी स्पाइस मॉल चौराहे पर पहुंचे और सार्वजनिक तौर पर भीख मांग कर निजी स्कूलों के खिलाफ अपना विरोध जताया। एसोसिएशन के अध्यक्ष यतेंद्र कसाना ने कहा कि कोरोना काल में लोगों को आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उद्योग, व्यापार ठप हो चुके हैं। अधिकतर लोगों की नौकरी कोरोना काल में छूट गई है। इसके बावजूद निजी स्कूल अभिभावकों की परेशानी को समझने को राजी नहीं हैं। अभिभावकों पर लगातार फीस जमा करने का दबाव बनाया जा रहा है। फीस जमा न करने पर अभिभावकों और विद्यार्थियों को तरह-तरह से प्रताड़ित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इसी के विरोध में एसोसिएशन ने सार्वजनिक तौर पर भीख मांग कर निजी स्कूलों के खिलाफ अपना विरोध जताया है। इस अवसर पर अतुल बंधु, विकास बंसल, के. अरुणाचलम, संजय भाटी, राजीव कुमार, रणवीर सिंह, मनीष गुप्ता, बृजेश गुर्जर और सचिन कसाना आदि मौजूद थे।