फोनरवा ने की पुलिस अधिकारियों के साथ यातायात व्यवस्था के संबंध में वर्चुअल मीटिंग

नोएडा। आज गई। फोनरवा के अध्यक्ष श्री योगेश शर्मा ने बैठक की शुरुआत करते हुए पुलिस प्रशासन की तरफ से उपस्थित डीसीपी ट्रैफिक गणेश शाह , ऐसीपी श्रीमती श्रद्धा पांडेय तथा अन्यअधिकारियों का स्वागत किया और कहां कि नोएडा में ट्रैफिक पुलिस की अलग से डिवीजन बनने से यहां के निवासियों की उनसे बहुत उम्मीद है और हमें आशा है कि भविष्य में नोएडा की ट्रैफिक व्यवस्था मैं सुधार होगा ।


यातायात व्यवस्था में सुधार करने के संबंध में अन्य उपस्थित सदस्यों के साथ विस्तार से चर्चा की. 


महासचिव के के जैन ने कहा कि हमारे यहां सभी सिग्नल स्टेटिक हैं। यानी जिसकी जितनी टाइमिंग सेट कर दी गई है वो उसी हिसाब से चलेगा। अतः अब डाइनेमिक सिग्नल का उपयोग किया जाए ,इस तरह के सिंग्नल सेंसर द्वारा कार्य करते है जो ट्रैफिक के हिसाब से टाइमिंग सेट करता है। इसलिए शहर में इनका इस्तेमाल होना चाहिए। इसके अलावा अभी चौराहे पर रेड सिग्नल होते ही वाहन रुक जाते हैं। किसी को दाएं जाना है लेकिन वह बांयी तरफ खड़ा है। सिग्नल ग्रीन होते ही उसे दाएं जाने का मौका ही नहीं मिलता। ऐसे में 3 लेन आर्किटेक्चर तकनीक कारगर साबित होगी। चौराहों पर 3 लेन बनाई जाएं। इसमें राइट, स्ट्रेट और लेफ्ट लेन बने। ताकि वाहन चालक उसी हिसाब से चलें।


ऑटो रिक्शा एवं बैटरी रिक्शा वालो ने जगह जगह मेट्रो स्टेशन के पास, मुख्य चौराहे, मार्गो , टी पॉइंट, मार्किट आदि के किनारे खड़े करने के कारण अक्सर ट्रैफिक जाम रहता है जिससे काफी परेशानी होती है। अतः ऐसी जगह पुलिस कांस्टेबल की तैनाती की जाए ।


नोएडा में सेक्टरों के मध्य की सड़कों पर बसें एवं भारी यातायात वाहनो का आवागमन रोक जाए। भारी यातायात वाहन एवं बसों आदि को नोएडा की मुख्य मार्गो पर ही जाने की अनुमति रहे । एलिवेटेड रोड पर केवल हल्के एवं छोटे वाहनों का आवागमन रहे।एलिवेटेड रोड पर भारी यातायात वाहनों का प्रवेश लो हाइट बैरियर लगाकर बंद करा जाए। 


नोएडा की सड़कों को जाम मुक्त करने के लिए नोएडा की यातायात व्यवस्था की समीक्षा के लिए समय समय पर फोनरवा के पदाधिकारियों के साथ बैठक होती रहे।


कई  सेक्टरों में मार्गो के किनारे टूटी फूटी हालात में वाहन खड़े है, इनको उठवा कर खत्म कराया जाये।


 नोएडा में जगह -जगह सड़कों पर बसें खड़ी की जाती है जो रात को भी खड़ी होती हैं जिसके कारण दुर्घटना होने का अंदेशा बना रहता है। अतः इस पर ध्यान दिया जाए ।


  शहर के कुछ यू-टर्न गलत बने हैं उनको ठीक करने की आवश्यकता है और अक्सर लोग रॉन्ग साइड ड्राइविंग करते है उनको रोकने की व्यवस्था की जाय ।


 नोएडा प्राधिकरण में शहर में कई स्थानों पर पार्किंग की व्यवस्था की है पार्किंग के अधिक लेट होने के कारण अधिकतर लोग आपने बहन अन्य स्थानों पर खड़ा कर देते हैं।अतः डी सी पी ट्रैफिक पुलिस से निवेदन है कि वे नोएडा प्राधिकरण से पार्किंग चार्जेज कम करवाये ।


 नोएडा शहर में बहुत जगह अवैध कट बने हुए हैं उनको बंद करने की जरूरत है।अगर किसी सेक्टर में कट बन्द या खोलना है इस संबंध में सम्बंधित आरडब्लूए से सम्पर्क किया जाए ।


नोएडा के निवासियों को ट्रैफिक नियमो के प्रति जागरूक करने के लिए कार्यक्रम अयोजित किये जायें । फोनरवा इस तरह के कार्यक्रम में हर तरह का सहयोग देने के लिए तैयार है ।


सेक्टरों में निवासियों द्वारा अपने घरों के बाहर सड़क पर गलत तरीके से वाहन खड़े किए जाते हैं। उसके कारण जाम की स्थिति बनी रहती है ।अतः इसका भी समाधान किया जाये ।ब्रह्मपुत्र मार्केट सेक्टर 29 एवं गोदावरी मार्केट सेक्टर 37 व अन्य मुख्य मार्केट में ट्रैफिक की अत्यधिक समस्या है। अतः ऐसी जगह भी ट्रैफिक पुलिस की व्यवस्था की जाए ।


इस अवसर पर फोनरवा के अध्यक्ष योगेंद्र शर्मा, महासचिव के के जैन,सरंक्षक सुशील चंद त्रिपाठी, वरिष्ठ उपाध्यक्ष कर्नल शशि वैद्य,ओ.पी यादव,राजीव गर्ग, ,अनिल खन्ना,शिव कुमार तिवारी, अशोक मिश्रा, टी सी गोड़, योगेश शर्मा , श्रीमती सुरेश चौहान,डी डी तिवारी लक्ष्मी नारायण, नितिन चौहान अशीम कुमार,, अशोल यादव, डॉ दिनेश शर्मा, राजेंद्र कुमार शर्मा,प्रमोद वर्मा देवेंद्र सिंह चौहान , आदि पदाधिकारी उपस्थित थे